Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics कृष्ण भजन - song-lyricslink: healthy food and lyrics

Latest

Monday, 9 May 2022

Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics कृष्ण भजन

  

Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics | Bhagat Ke Vash Mein Hai Bhagwan Bhajan

Full Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics In Hindi and English भगत के वश में है भगवान लिरिक्स Bhagat Ke Vash Mein Hai Bhagwan Bhajan / Krishna Bhajan Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan / Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Bhajan Lyrics. Full - भगत के वश में है भगवान, भक्त बिना ये कुछ भी नहीं है Bhakt hai isakee jaan, Bhagat ke vash mein hai bhagwan.


Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics In Hindi | Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Bhajan Lyrics


भगत के वश में है भगवान

भक्त बिना ये कुछ भी नहीं है

भक्त है इसकी जान

भगत के वश में है भगवान।


भक्त मुरली वाले की

रोज वृन्दावन डोले।

कृष्ण को लल्ला समझे

कृष्ण को लल्ला बोले।

श्याम के प्यार में पागल

हुई वो श्याम दीवानी।

अगर भजनो में लागे

छोड़ दे दाना पानी।

प्यार कारन लागी इससे

अपने पुत्र समान

भगत के वश में है भगवान।


वो अपने कृष्ण लला को

कलेजे लगा कर रखे।

हमेशा सजा कर रखे

के लाड लड़ा कर रखे।

वो दिन में भाग के देखे

के रात में जाग के देखे।

कभी अपने कमरे से

श्याम को जाक के देखे।

अपनी जान से ज्यादा रखती

अपने लला का ध्यान

भगत के वश में है भगवान।


वो लल्ला लल्ला पुकारे

हाय क्या जुल्म हुआ रे।

बुढ़ापा बिगड़ गया जी

लाल मेरा कैसे गिरा रे।

जाओ डॉक्टर को लाओ

लाल का हाल दिखाओ।

अगर इसको कुछ हो गया

मुझे भी मार गिराओ।

रोते रोते पागल हो गई

घर वाले परेशान

भगत के वश में है भगवान।


बना पीतल से मैया

ये तेरा श्याम सलोना।

पड़ा बेजान है ये

जैसे मिठ्ठी का खिलौना।

सारी दुनिया में ढूंढो

बेहेम की दवा नहीं है।

चोट पीतल को आये

ऐसा तो हुआ नहीं है।

केवल तेरी ममता है ये

मूर्ति है बेजान

भगत के वश में है भगवान।


जोहि सीने से लगाया

और डॉक्टर चकराया।

उसने कई बार लगाया

पसीना झम कर आया।

देख ये अद्भुद माया

रह गया हक्का बक्का।

पसीना लगा पोछने

छूट गया उसका छक्का।

धड़क रहा सीना लल्ला का

मूर्ति में थे प्राण

भगत के वश में है भगवान।

माँ से मिलने की खातिर

ये लल्ला मचल गया था।

तुम्हारी गोद में आने

जरा सा उछल गया था।

तू इसको गोद में ले ले

लाल मुस्काने लगेगा।

गोद में खुद भी नाचे

तुमे भी नाचने लगेगा।

कस के पकड़ियो लल्ला तेरा

थोड़ा सा सैतान

भगत के वश में है भगवान।


देख तेरे लाल की माया

बड़ा गबरा रहा हु।

जहा से तू लल्ला लाई

वही पे जा रहा हु।

बुला कर तुमने मुझको

बड़ा अहसान किया है।

आज से सारा जीवन

उसी के नाम किया है।

एक अहसान कर दे

तेरे लल्ला से कह दे।

वही वृन्दावन में माँ

ये डॉक्टर प्राण दे दे।

बनवारी माँ तू नहीं पागल

पागल सारा जहा

भगत के वश में है भगवान।


माँ की ममता के आगे

देखो भगवन हारे।

एक पत्थर की मूर्ति

देखो किलकारी मारे।

भावना होगी सच्ची

जो दिल में प्यार होगा।

हमेशा इस धरती पे

यु चमत्कार होगा।

मैया तुमको तेरे लला को

कोटिन कोटि प्रणाम

भगत के वश में है भगवान।


भक्त बिना ये कुछ भी नहीं है

भक्त है इसकी जान

भगत के वश में है भगवान।


Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics In English | Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Bhajan Lyrics


bhagat ke vash mein hai bhagwan

bhakt bina ye kuchh bhee nahin hai

bhakt hai isakee jaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


bhakt muralee vaale kee

roj vrndaavan dole

krishna ko lalla samajhe

krishna ko lalla bole

shyaam ke pyaar mein paagal

hui vo shyaam deevaanee

agar bhajano mein laage

chhod de daana paanee

pyaar karan laagee isase

apane putr samaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


vo apane krshn lala ko

kaleje se laga kar rakhe

hamesha saja kar rakhe

ke laad lada kar rakhe

vo din mein bhaag ke dekhe

ke raat mein jaag ke dekhe

kabhee apane kamare se

shyaam ko jaak ke dekhe

apanee jaan se jyaada rakhatee

apane lala ka dhyaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


vo lalla lalla pukaare

haay kya julm hua re

budhaapa bigad gaya jee

laal mera kaise gira re

jao doktar ko lao

laal ka haal dikhao

agar isako kuchh ho gaya

mujhe bhee maar girao

rote rote paagal ho gaee

ghar vaale pareshaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


bana peetal se maiya

ye tera shyaam salona

pada bejaan hai ye

jaise miththee ka khilauna

saaree duniya mein dhoondho

behem kee dava nahin hai

chot peetal ko aaye

aisa to hua nahin hai

keval teree mamata hai ye

moorti hai bejaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


johee seene se lagaaya

aur doktar chakaraaya

usane kaee baar lagaaya

paseena jham kar aaya

dekh ye adbhud maaya

rah gaya hakka bakka

paseena laga pochhane

chhoot gaya usaka chhakka

dhadak raha seena lalla ka

moorti mein the praan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


maan se milane kee khaatir

ye lalla machal gaya tha

tumhaaree god mein aane

jara sa uchhal gaya tha

too isako god mein le le

laal muskaane lagega

god mein khud bhee naache

tume bhee naachane lagega

kas ke pakadiyo lalla tera

thoda sa saitaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


dekh tere laal kee maaya

bada gabara raha hu

jaha se too lalla laee

vahee pe ja raha hu

bula kar tumane mujhako

bada ahasaan kiya hai

aaj se saara jeevan

usee ke naam kiya hai

ek ahasaan kar de

terelalla se kah de

vahee vrndaavan mein maan

ye doktar praan de de

banavaaree maan too nahin paagal

paagal saara jaha

bhagat ke vash mein hai bhagwan


maan kee mamata ke aage

dekho bhagavan haare

ek patthar kee moorti

dekho kilakaaree maare

bhaavana hogee sachchee

jo dil mein pyaar hoga

hamesha is dharatee pe

yu chamatkaar hoga

maiya tumako tere lala ko

kotin koti pranaam

bhagat ke vash mein hai bhagwan


bhakt bina ye kuchh bhee nahin hai

bhakt hai isakee jaan

bhagat ke vash mein hai bhagwan


Bhagat Ke Bas Mein Hai Bhagwan Lyrics In Hindi and English भगत के वश में है भगवान लिरिक्स


No comments:

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.